SEBI has invited to all the interested firms to offer the higher price for the properties of PACL. SEBI asked to submit their proposals as soon as possible and 21 June 2018 is the last date to submit their corporal.

All firms have to submit their proposals to RM Lodha Committee.

The committee, led by former Chief Justice of India RM Lodha, is looking to return the money as soon as possible to the all investors of PACL by selling it’s properties. They are also investigating whether the investor is authentic or not.

And the other side last month PACL had also proposed to recover 15,000 crore rupees in 2 years. The company has proposed to bring a buyer for the same amount of Rs 7,500 crore for the first year and for the second year.

 

SEBI ने सभी इच्छुक फर्मों को पीएसीएल के properties के लिए high price offer करने के लिए आमंत्रित किया है। सेबी ने जल्द से जल्द अपने प्रस्ताव प्रस्तुत करने के लिए कहा और 21 जून 2018 अपनी porspoal जमा करने की आखिरी तारीख है।

सभी फर्मों को RM Lodha कमेटी को अपने प्रस्ताव जमा करना होगा।

भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश आरएम लोढा के नेतृत्व में समिति, PACL के सभी निवेशकों को संपत्ति बेचकर पैसे वापस लौटने की सोच रही है। वे यह भी जांच कर रहे हैं कि निवेशक प्रामाणिक (genuine) है या नहीं।

और पिछले महीने पीएसीएल ने 2 साल में 15,000 करोड़ रुपये return करने का भी प्रस्ताव रखा था। कंपनी ने पहले वर्ष के लिए 7,500 करोड़ और दूसरे वर्ष के लिए 7,500 करोड़ रुपये की राशि refund करने का प्रस्ताव रखा है।

Related Posts